प्रभाग (शै०अ०प्र०) की भूमिका एवं कार्य

अभी तक इस विभाग को शैक्षिक अनुसंधान एवं नीतिगत संदर्श विभाग (डीईआरपीपी) के नाम से जाना जाता था। अब इसके नाम में परिवर्तन कर इसका नाम शैक्षिक अनुसंधान प्रभाग (शै०अ०प्र०) कर दिया गया है। विद्यालयी शिक्षा के गुणात्म क सुधार के लिए शैक्षिक अनुसंधान और अनुसंधान पर आधारित नीतिगत परिप्रेक्ष्यों् को बढ़ावा देना एनसीईआरटी का एक महत्वकपूर्ण सरोकार है जिसे पूरा करने में प्रभाग परिषद् की सहायता करता है।

प्रभाग के मुख्या कार्यों में सम्मिलित हैं -

  • विश्वेविद्यालयों, संस्थाानों और एनसीईआरटी के संघटकों से जुड़े अनुसंधानकर्ताओं द्वारा की जाने वाली परियोजनाओं को वित्ती,य सहायता;
  • संस्थागत अनुसंधान की क्षमताओं का विकास करना और उन्हेंई सुदृढ़ बनाना;
  • विद्यालयी शिक्षा के क्षेत्र में शैक्षिक अनुसंधान से संबंधित सूचना का प्रचार-प्रसार करना; और
  • शैक्षिक अनुसंधान से जुड़े कार्यकर्ताओं तथा लाभान्वितों तक पहुँचने के लिए संचार माध्यममों को उपलब्धक कराना, अनुसंधान के निष्कतर्षों और शिक्षा प्रणाली पर उनके प्रभाव के बारे में जानकारी एवं प्रतिक्रिया प्राप्तस करना।

एनसीईआरटी की एक स्थातयी समिति, जिसे शैक्षिक अनुसंधान और नवाचार समिति (एरिक) कहा जाता है, विद्यालयी और अध्याथपक शिक्षा से संबंधित महत्व पूर्ण विषयों पर अनुसंधान को बढ़ावा और सहायता देने के लिए उत्प्रेधरक के रूप में कार्य करती है। 'एरिक' समिति के सदस्यों में विश्व विद्यालयों और अनुसंधान संस्था नों के शिक्षा तथा संबद्ध विषयों में कार्यरत विख्याुत अनुसंधानकर्ता और एसआईई/ एससीईआरटी इत्याादि संस्था नों के प्रतिनिधि सम्मिलित हैं। शैक्षिक अनुसंधान प्रभाग एरिक के सचिवालय के रूप में कार्य करता है और शैक्षिक अनुसंधान को बढ़ावा देने वाले विभिन्नम क्रियाकलापों का समन्वंय करता है। एरिक के अन्त र्गत वित्तीाय सहायता हेतु प्राप्तक शोध प्रस्ता वों की जाँच एवं सहायता हेतु एक उप समिति गठित की गई है जिसे जाँच-सह-प्रगति अनुवीक्षण समिति (एसपीएमसी) कहते हैं। एसपीएमसी की सिफारिशों के आधार पर वित्ती य समर्थन उपलब्ध करवाया जाता है। यह उप समिति प्रत्येएक परियोजना की वार्षिक प्रगति की भी जाँच करती है।

वर्ष 2012 के लिए शै०अ०प्र० के कार्यक्रमों का विवरण (एनसीईआरटी की कार्यक्रम सलाहकार समिति (पीएसी) द्वारा अनुमोदित)

  • एनसीईआरटी की डॉक्टोारल अध्येितावृत्तियाँ
  • इन्डियन एजुकेशनल रिव्यू (आई ई आर) का प्रकाशन
  • शैक्षिक अनुसंधान के लिए अग्रणी विषयों को चिन्हित करने के लिए राष्ट्री य परामर्शी बैठक
  • एनसीईआरटी संकाय हेतु शैक्षिक अनुसंधान के क्षेत्र में अनुसंधान करने में सहायता प्रदान करना
  • बी.एड पाठ्यक्रम हेतु पाठ्यपुस्त क ''बेसिक्सस इन एजुकेशन'' का विकास
  • एरिक कार्यकलापों का आयोजन : एसपीएमसी बैठकें और एरिक की आम सभा की बैठक
एनसीईआरटी डॉक्टोारल अध्येितावृत्तियाँ(अंतिम तिथि : 8 नवम्बर २०१७)    ऑनलाइन आवेदन

एनसीईआरटी की अनुसंधान एसोशिएटशिप की विस्तृत योजना(अंतिम तिथि :३० नवम्बर २०१७)    ऑनलाइन आवेदन