परिचय

24 नवम्बार 2005 को एनसीईआरटी में कला एवं सौन्दनर्य बोध शिक्षा विभाग की रचना एक पृथक विभाग के रूप में इस संकल्पाना के साथ की गई ;

विकास, प्रशिक्षण, अनुसंधान, अभिमुखीकरण जैसे विविध क्रियाकलापों के माध्यनम से देश की शिक्षा पद्धति की मुख्य धारा में लाते हुए विद्यालयों में कला के सभी रूपों को बढ़ावा देना और योगदायी नागरिक बनाने में उनको समर्थ बनाने हेतु बच्चों की सौंदर्य बोधात्मकक की संभाव्याताओं को प्रकट करना।

 

चित्रदीर्घा

     
 
 
     

नया क्या है